थायराइड कैंसर के लक्षण, निदान और उपचार (Thyroid cancer: symptoms, diagnosis and treatment)

by Team Onco
1976 views

थायराइड एक ग्रंथि होती है, जो हमारे गले में आगे के हिस्से में मौजूद होती है। थायराइड कैंसर (thyroid cancer) गर्दन के आधार पर एक छोटी तितली के आकार की ग्रंथि, थायरॉयड में विकसित होता है। यह ग्रंथि हार्मोन उत्पन्न करती है जो आपके मेटाबाॅलिज्म को नियंत्रित करती है। थायराइड हार्मोन शरीर के तापमान, रक्तचाप और हृदय गति को नियंत्रित करने में भी मदद करते हैं। जब ग्रंथि में कोशिकाएं बदलती हैं या उत्परिवर्तित होती हैं तो थायराइड कैंसर विकसित होता है। थायरॉयड में असामान्य कोशिकाएं बढ़ने लगती हैं और एक बार पर्याप्त मात्रा में हो जाने पर, वे एक ट्यूमर का निर्माण करती हैं। यदि समय पर इसका निदान किया जाए तो इसका इलाज संभव है। पुरूषों के मुकाबले महिलाओं में थायरॉइड कैंसर होने की संभावना अधिक होती है। थायराइड कैंसर किसी भी आयु वर्ग में हो सकता है, हालांकि यह 30 साल की उम्र के बाद सबसे आम है, और बुजुर्ग रोगियों में इसकी आक्रामकता काफी बढ़ जाती है। 

थायराइड कैंसर

थायराइड कैंसर के प्रकार (Types of thyroid cancer)

पैपिलरी थायराइड कैंसर (papillary thyroid cancer)

यह सभी थायराइड कैंसर के 80 प्रतिशत मामलों में पाया जाता है। यह धीरे-धीरे बढ़ता है, लेकिन अक्सर आपकी गर्दन में लिम्फ नोड्स में फैल जाता है। इसके आपके रक्त वाहिकाओं में फैलने की भी अधिक संभावना है। फिर भी, इसमें ठीक होने की संभावना होती है। 

फॉलीक्यूलर थायराइड (follicular thyroid) 

फॉलिक्युलर थायरॉइड कैंसर में थायरॉइड कैंसर का 15 प्रतिशत तक निदान होता है। इस कैंसर के फेफड़ों की तरह हड्डियों और अंगों में फैलने की संभावना अधिक होती है। फॉलीक्यूलर थायराइड कैंसर भी थायरॉयड की फॉलीक्यूलर कोशिकाओं से उत्पन्न होता है। यह आमतौर पर 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को प्रभावित करता है। मेटास्टेटिक कैंसर   का इलाज करना अधिक चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

मेडुलरी थायराइड कैंसर (medullary thyroid cancer)

लगभग 2 प्रतिशत थायराइड कैंसर मेडुलरी होते हैं। मेडुलरी थायराइड कैंसर वाले एक चौथाई लोगों में बीमारी का पारिवारिक इतिहास होता है। यह सी कोशिकाओं नामक थायरॉयड कोशिकाओं में शुरू होता है, जो हार्मोन कैल्सीटोनिन का उत्पादन करते हैं। 

एनाप्लास्टिक (Anaplastic)

यह आक्रामक थायराइड कैंसर इलाज है। यह तेजी से बढ़ सकता है और अक्सर आसपास के ऊतकों और शरीर के अन्य भागों में फैल जाता है। इसका इलाज बहुत मुश्किल है। एनाप्लास्टिक थायरॉयड कैंसर आमतौर पर 60 वर्ष और अधिक उम्र के किशोरों में होता है।

थायराइड कैंसर के लक्षण (Symptoms of thyroid cancer)

  • गर्दन पर गांठ का महसूस होना
  • आपकी आवाज में बदलाव
  • नगलने में परेशानी होना
  • गर्दन और गले में दर्द
  • गर्दन में लिम्फ नोड्स में सूजन 
  • खांसी

थायराइड कैंसर का निदान कैसे किया जाता है? (Thyroid cancer diagnosis)

यदि आपके आप थायरॉयड नोड्यूल या थायरॉयड कैंसर के किसी भी तरह के लक्षण महसूस करते हैं, तो आपका डाॅक्टर इनमें से एक या अधिक परीक्षणों की सलाह दे सकता हैः

ब्लड टेस्ट (Blood test)

एक थायराइड ब्लड टेस्ट हार्मोन के स्तर की जांच करता है और यह पता लगाता है कि आपका थायरॉयड ग्रंथि ठीक से काम कर रही है या नहीं।

बायोप्सी (Biopsy)

फाइन-नीडल एस्पिरेशन बायोप्सी के दौरान, आपका डाॅक्टर थायरॉयड से कैंसर कोशिकाओं के परीक्षण के लिए कोशिकाओं का नमूना लेता है। आपका डाॅक्टर बायोप्सी प्रक्रियाओं का मार्गदर्शन करने के लिए अल्ट्रासाउंड तकनीक का उपयोग कर सकता है।

रेडियोआयोडीन स्कैन (Radioiodine scan)

यह परीक्षण थायराइड कैंसर का पता लगा सकता है और यह निर्धारित कर सकता है कि कैंसर फैला है या नहीं। इसमें आप एक सुरक्षित मात्रा में रेडियोधर्मी आयोडीन (रेडियोआयोडीन) वाली गोली का सेवन करते हैं। कुछ घंटों में, थायरॉयड ग्रंथि आयोडीन को अवशोषित कर लेती है। जिसके बाद डाॅक्टर ग्रंथि में रेडिएशन की मात्रा को मापने के लिए एक विशेष उपकरण का उपयोग करता है। कम रेडियोएक्टिविटी वाले क्षेत्रों में कैंसर की उपस्थिति की पुष्टि के लिए अधिक परीक्षण की आवश्यकता होती है।

इमेजिंग परीक्षण (Imaging tests)

कैंसर अन्य भागों में फैला है या नहीं, यह जानने के लिए एक या अधिक इमेजिंग परीक्षण किए जा सकते हैं। इमेजिंग परीक्षणों में सीटी, एमआरआई और न्यूक्लियर इमेजिंग परीक्षण शामिल हो सकते हैं जो आयोडीन के रेडियोएक्टिव फाॅर्म का उपयोग करते हैं।

थायराइड कैंसर का उपचार (Thyroid cancer treatment)

थायराइड कैंसर का उपचार ट्यूमर के आकार और कैंसर कितना फैला है इस पर निर्भर करता है। उपचार में शामिल हैंः 

सर्जरी (Surgery)

थायराइड कैंसर के लिए सर्जरी सबसे आम इलाज है। ट्यूमर के आकार और स्थान के आधार पर, आपका सर्जन थायरॉयड ग्रंथि (लोबेक्टोमी) का हिस्सा या पूरी ग्रंथि (थायरॉयडेक्टॉमी) को हटा सकता है। आपका सर्जन किसी भी आस-पास के लिम्फ नोड्स को भी हटा देता है जहां कैंसर कोशिकाएं फैल गई हैं।

रेडियोआयोडीन थेरेपी (Radioiodine therapy)

रेडियोआयोडीन थेरेपी के साथ, आप डायग्नोस्टिक रेडियोआयोडीन स्कैन की तुलना में रेडियोएक्टिव आयोडीन की हाई डोज़ वाली गोली या तरल निगलते हैं। रेडियोआयोडीन कैंसर कोशिकाओं के साथ रोगग्रस्त थायरॉयड ग्रंथि को सिकोड़ता और नष्ट करता है। हालांकि, इसमें घबराने जैसी कोई बात नहीं होती है, यह उपचार बहुत सुरक्षित है। आपकी थायरॉयड ग्रंथि लगभग सभी रेडियोआयोडीन को अवशोषित कर लेती है। आपके शरीर के बाकी हिस्सों में न्यूनतम रेडिएशन जोखिम है। 

रेडिएशन थेरेपी (Radiation therapy)

रेडिएशन कैंसर कोशिकाओं को मारता है और उन्हें बढ़ने से रोकता है। बाहरी रेडिएशन थेरेपी ट्यूमर क्षेत्र पर सीधे एनर्जी के मजबूत बीम पहुंचाने के लिए एक मशीन का उपयोग करती है। आंतरिक विकिरण चिकित्सा (ब्रैकीथेरेपी) में ट्यूमर में या उसके आसपास रेडियोएक्टिव सीड रखना शामिल है।

कीमोथेरेपी

इंट्रावेनस या ओरल कीमोथेरेपी दवाएं कैंसर कोशिकाओं को मारती हैं और कैंसर के विकास को रोकती हैं। थायराइड कैंसर के निदान वाले बहुत कम रोगियों को कभी कीमोथेरेपी की आवश्यकता होगी।

हार्मोन थेरेपी

यह उपचार हार्मोन की रिलीज़ को रोकता है, जिससे कैंसर फैल सकता है या वापस आ सकता है।

Related Posts

Leave a Comment