ट्यूमर बोर्ड क्या है और कैंसर उपचार में कैसे है मददगार ?

by Team Onco
59 views

यह लेख कैंसर के रोगियों और देखभाल करने वालों के लिए ट्यूमर बोर्ड के उपयोग के बारे में जानकारी देता है।

भारत में कैंसर रोगियों और देखभाल करने वालों के सामने आने वाली सबसे आम समस्याओं में से एक है उनकी बीमारी के बारे में पर्याप्त जानकारी की कमी। जैसे कि उपचार के दौरान कौन से परीक्षण कराने की आवश्यकता है, बीमारी की स्टेज क्या है, उनके लिए कौन-सा उपचार सबसे उपयुक्त है और परिणाम की क्या उम्मीद की जा सकती है। 

हमारी ट्यूमर बोर्ड सेवा आपको यह जानने में मदद करती है, कि आपके पास सही उपचार योजना है या नहीं, या आपके लिए कोई बेहतर उपचार योजना उपलब्ध है।

सही समय पर सही जानकारी न मिल पाने पर, कैंसर पहले से अधिक जटिल बीमारी का रूप ले सकता है।  

कैंसर के उपचार के हर स्टेज में, निदान से लेकर सही उपचार खोजने और सही फॉलो-अप केयर तक, रोगी और देखभाल करने वाले की पूरी तस्वीर किसी संघर्ष से कम नहीं होती है।

Onco.com अपने काबिल और बेहतर केयर मैनेजर (देखभाल प्रबंधक) के माध्यम से आपके कैंसर के सफर में हर कदम पर आपका मार्गदर्शन करने में सक्षम है, जो आपको कैंसर के उपचार से जुड़े सभी सवालों के जवाब दे सकते हैं।

Onco.com की ट्यूमर बोर्ड सेवा

हमारी ट्यूमर बोर्ड सेवा आपको यह जानने में मदद करती है, कि आपके पास सही उपचार योजना है या नहीं, या आपके लिए कोई बेहतर उपचार योजना उपलब्ध है।

हमारे ट्यूमर बोर्ड में भारत और अमेरिका के ऑन्कोलॉजी के क्षेत्र के विशेषज्ञ शामिल हैं। इन ऑन्कोलॉजिस्टों का कैंसर के इलाज में 10+ वर्ष का अनुभव है, और ये सभी टाटा मेमोरियल, एम्स और मेमोरियल स्लोन केटरिंग जैसे प्रमुख संस्थानों से प्रशिक्षित हैं। 

इस सेवा का लाभ उठाने के लिए आपको उपचार के जुड़े किसी भी सवाल के साथ अपनी चिकित्सा रिपोर्ट हमारे केयर मैनेजर के साथ साझा करने की आवश्यकता होगी। फिर हम एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार करेंगे, जिसमें केस का सारांश, निदान, उपचार के विकल्प और सुझाव शामिल होंगे।

अपनी रिपोर्ट जमा करने के दो से तीन दिनों के भीतर, आपको हमारी ओर से ट्यूमर बोर्ड की रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी। 

रिपोर्ट आपको सबसे बेहतर उपचार विकल्पों के बारे में जानकारी के साथ-साथ आपके लिए सर्वाेत्तम उपचार प्रदान करेगी, जिससे आपको लाभ हो सकता है। इस दौरान हम क्लीनिकल ट्रायल खोजने में भी मदद करेंगे, जो आपके कैंसर के लिए एक उपयुक्त विकल्प हो सकता है।

रिपोर्ट में आपके उपचार और फॉलो-अप आवश्यकताओं से अपेक्षित परिणामों की जानकारी भी शामिल होगी।

रिपोर्ट मिलने के 25 दिन बाद तक आप ट्यूमर बोर्ड से सलाह ले सकते हैं। आप अपने बचे हुए उपचार के सफर के लिए हमारे केयर मैनेजर की सेवाओं का भी लाभ उठा सकते हैं।

हमारे केयर मैनेजर आपकी आवश्यकता और बजट के आधार पर सही निदान और उपचार केंद्रों के साथ-साथ आपके कैंसर के प्रकार और स्टेज के लिए सही ऑन्कोलॉजिस्ट खोजने में आपकी मदद करेंगे। 

हमारे केयर मैनेजर आपके कैंसर के सफर के दौरान हर कदम पर आपका मार्गदर्शन करने के लिए आपके साथ रहेंगे, साथ ही कैंसर की स्टेज की विशिष्ट जानकारी और सेवाओं के लिए आपकी सहायता करेंगे। हमारी ओर से इन सेवाओं को लेने वाले रोगियों के लिए पोषण और परामर्श सहायता भी प्रदान की जाती है। 

हमारी सेवाओं से आपको क्या लाभ मिलेगा?

Onco.com के ट्यूमर बोर्ड के कुछ विशिष्ट लाभ हैं जो आपको अपने कैंसर के उपचार का अधिकतम लाभ उठाने में मदद करेंगे।

निष्पक्ष सेकेंड ओपिनियन 

Onco.com किसी एक अस्पताल या उपचार केंद्र से नहीं जुड़ा है। इसलिए हम आपको सिर्फ एक जगह जाने की सलाह नहीं देंगेे। आपकी सुविधा और बजट के आधार पर हम बेहतर केंद्र की सिफारिश करते हैं। 

दूसरी राय यानी कि सेकेंड ओपिनियन आपके इलाज में किसी भी तरह की कमी को पूरा करती है। आप हमारी रिपोर्ट को अपनी ऑन्कोलॉजिस्ट उपचार टीम के साथ साझा कर सकते हैं और यदि आप चाहें तो उपचार विकल्पों पर चर्चा कर सकते हैं।

विशेषज्ञों तक पहुंच

ट्यूमर बोर्ड के सभी ऑन्कोलॉजिस्ट को कैंसर के इलाज में 10 से अधिक वर्षों का अनुभव है और ये भारत और अमेरिका के प्रमुख संस्थानों से प्रशिक्षित हैैं।

हम उन ऑन्कोलॉजिस्ट को चुनते हैं, जो आपके कैंसर के प्रकार और स्टेज में विशेषज्ञ हैं, ताकि आपको उपचार के लिए बेहतर संभव सलाह मिल सके।

ऑनलाइन सेवा

अब आपको भारत और अमेरिका के टॉप ऑन्कोलॉजिस्ट से संपर्क करने के लिए यात्रा या इंतजार करने की आवश्यकता नहीं है। आप एक क्लिक में कैंसर स्पेशलिस्ट से राय प्राप्त कर सकते हैं।

आप अपनी मेडिकल रिपोर्ट ऑनलाइन जमा कर सकते हैं और ऑन्कोलॉजिस्ट से लिखित राय ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।

आप अपनी मेडिकल रिपोर्ट ऑनलाइन जमा कर सकते हैं और ऑन्कोलॉजिस्ट से लिखित राय ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।

उपचार परिणामों को समझना

ट्यूमर बोर्ड की रिपोर्ट आपको विभिन्न उपचारों के अपेक्षित परिणामों को समझने में मदद करती है। फॉलो-अप प्रक्रियाएं जिनकी आवश्यकता हो सकती है, और इस दौरान आपको कैंसर में सर्वाइवर रेट के बारे में स्पष्ट रूप से समझाया जाएगा।

इससे आपको अपने उपचार के बारे में विकल्प खोजने में मदद मिलती है।

अत्याधुनिक उपचार विकल्प

रिपोर्ट में आधुनिक उपचार, दवाएं और साथ ही नैदानिक परीक्षण शामिल हैं जो आपके लिए फायदेमंद हैं। आपको जोखिमों और लाभों को बेहतर तरीके से समझाया जाएगा, जिससे आप हमारे विशेषज्ञ ऑन्कोलॉजिस्ट के मार्गदर्शन में उपचार को लेकर सर्वाेत्तम विकल्प चुन सकते हैं।

हम एंडवास डायग्नोटिक टेस्ट यानी कि नैदानिक परीक्षणों में भी आपकी सहायता करते हैं, जिससे आपको उपचार संबंधी निर्णय लेने में मदद मिलती है। इन परीक्षणों का उपयोग यह जांचने के लिए किया जाता है कि रोगी को पुनरावृत्ति होगी, आसान शब्दों में समझें तो कैंसर के वापस आने का जोखिम है या नहीं। अगर उनके दोबारा होने का खतरा कम है, तो डॉक्टर कीमोथेरेपी न कराने की सलाह देंगे। ऐसे में, इन परीक्षणों का उपयोग करके, रोगी कभी-कभी कीमोथेरेपी से बचने में सक्षम होते हैं।

ऊपर दिए गए सभी कारण ये सुनिश्चित करते हैं कि आप अपने कैंसर के उपचार और उसके परिणामों के बारे में संतुष्ट रहें। 

ट्यूमर बोर्ड सेवा क्यों महत्वपूर्ण है?

ट्यूमर बोर्ड की मदद से आप ये पता लगा सकते हैं कि आप वर्तमान में अपने कैंसर के लिए सही ट्रीटमेंट प्लान पर हैं, या यदि आपके लिए कोई और बेहतर प्लान है। यह किसी भी तरह के संदेह को कम करता है, साथ ही आपको ये विश्वास दिलाता है कि आप उपचार के सही रास्ते पर हैं।

कैंसर का उपचार आमतौर पर बहु-विषयक होता है जिसमें सर्जरी, मेडिकल और रेडिएशन उपचार शामिल होता है।

यह सेवा आपको घर बैठे आराम से, भारत और अमेरिका के टॉप ऑन्कोलॉजिस्ट तक पहुंच प्रदान करती है। आपको अपने इलाज के बारे में उनकी राय लेने के लिए अलग-अलग जगह यात्रा नहीं करनी पड़ती। साथ ही इससे आपको संक्रमण का जोखिम नहीं होता और अतिरिक्त खर्च करने की आवश्यकता भी नहीं पड़ती है। 

कैंसर के लिए सेकेंड ओपिनियन का महत्व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी चर्चित है। वास्तव में, अधिक विकसित देशों में, बीमा एजेंसियों में उपचार शुरू करने से पहले आपको सेकेंड ओपिनियन लेने की आवश्यकता होती है, ताकि आप ये सुनिश्चित कर सके कि उपचार आपके लिए सही है या नहीं।

ट्यूमर बोर्ड की रिपोर्ट आपके लिए उपलब्ध सभी संभावित उपचार विकल्पों के साथ, आपकी स्थिति की विस्तृत जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी एडवांस या आगामी उपचार विकल्प के बारे में भी आपको बताती है, जिसका आप उपयोग कर सकते हैं। इसमें आपके लिए उपयुक्त नैदानिक परीक्षण की जानकारी भी शामिल होती है। इस रिपोर्ट से, आपको पता चल जाएगा कि उपचार के अपेक्षित परिणाम क्या हैं और उपचार के बाद किस तरह से फॉलो-अप की आवश्यकता है। आपके कैंसर के प्रकार और स्टेज के लिए उपचार के बाद सर्वाइवर रेट के बारे में भी आपको बताया जाएगा।

ट्यूमर बोर्ड में कौन शामिल हैं?

कैंसर का उपचार आमतौर पर बहु-विषयक होता है जिसमें सर्जरी, मेडिकल और रेडिएशन उपचार शामिल होता है। Onco के ट्यूमर बोर्ड में ऑन्कोलॉजी उपचार की विभिन्न विशिष्टताओं के विशेषज्ञ शामिल हैं, जिसमें अच्छी तरह से स्थापित, पारंपरिक दृष्टिकोण के साथ-साथ नए और आधुनिक उपचार दोनों शामिल हैं। 

यहां कुछ चिकित्सा विशेषज्ञ के बारे में बताया गया है, जो बोर्ड का हिस्सा हैंः

सर्जिकल ऑन्कोलॉजिस्ट

ठोस ट्यूमर वाले कई प्रकार के कैंसर के लिए, प्रारंभिक अवस्था में उपचार के लिए सर्जरी एक सही तरीका है। इस कारण से, आपके विशिष्ट प्रकार के कैंसर में एक विशेषज्ञ सर्जिकल ऑन्कोलॉजिस्ट ट्यूमर बोर्ड का हिस्सा होगा, जो आपकी रिपोर्ट बनाता है।

मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट

कई प्रकार के कैंसर के लिए कीमोथेरेपी उपचार की एक सामान्य प्रक्रिया है। एक मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट कीमोथेरेपी और टारगेट थेरेपी व इम्यूनोथेरेपी जैसे नए उपचार के बारे में सलाह देता है।

रेडिएशन ऑन्कोलॉजिस्ट 

कई कैंसर रोगियों के लिए, रेडिएशन ऑन्कोलॉजिस्ट उनकी उपचार योजना का एक अनिवार्य हिस्सा है। यदि प्राथमिक उपचार पद्धति के रूप में नहीं, तो सहायक उपचार के रूप में होती है। एक रेडिएशन ऑन्कोलॉजिस्ट रेडिएशन थेरेपी के लिए प्रशिक्षित होता है।

सर्जिकल गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल अंगों में सर्जरी के लिए विशिष्ट सर्जनों की आवश्यकता होती है। इस कारण से, कैंसर की जगह के आधार पर सर्जिकल गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट, ज़रूरत पड़ने पर ट्यूमर बोर्ड का हिस्सा बनते हैं। गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल अंगों में आहार नली, पेट, छोटी आंत, बड़ी आंत, मलाशय, रेक्टम और कैनल, लिवर, अग्न्याशय आदि शामिल हैं।

न्यूरोसर्जन

सेंट्रल एंड पेरीफेरल नर्वस सिस्टम (central and peripheral nervous system)   की बीमारियों के इलाज करने वाले विशेषज्ञ डॉक्टरों को न्यूरोसर्जन कहा जाता है। यदि कैंसर ने मस्तिष्क या रीढ़ को प्रभावित किया है, तो आपकी रिपोर्ट के लिए एक न्यूरोसर्जन को ट्यूमर बोर्ड में शामिल किया जाएगा।

न्यूलिक्यर मेडिसिन फिजिशियन

न्यूक्लियर मेडिसिन फिजिशियन उपचार में रेडियोएक्टिव पदार्थों का उपयोग करने में विशेषज्ञ होते हैं। वे रोगियों का निदान करने के लिए उपयोग किए जाने वाले स्कैन से छवियों को स्वीकृति और व्याख्या (approve and interpret images) भी करते हैं। ये मॉलिक्यूलर इमेजिंग और मॉलिक्यूलर थेरेपी जैसी प्रक्रियाओं के लिए भी आवश्यक है। खासतौर पर थायराइड कैंसर के लिए ट्यूमर बोर्ड में न्यूक्लियर मेडिसिन फिजिशियन शामिल होता है।

ये सभी विशेषज्ञ आपके केस हिस्ट्री और बीमारी की वर्तमान स्थिति को समझने के लिए मिलकर काम करते हैं। फिर वे एक रिपोर्ट तैयार करते हैं, जिसमें आपकी बीमारी की व्याख्या, इसके लिए सर्वाेत्तम संभव ट्रीटमेंट प्लान, उपचार के बाद की जाने किया जाने वाला फॉलो-अप और उपचार से क्या परिणाम की उम्मीद की जाती है, इसकी जानकारी शामिल होती है।

भारत में ट्यूमर बोर्ड की राय कैसे प्राप्त की जा सकती है?

आप Onco.com के ट्यूमर बोर्ड से 79965 79965 पर कॉल करके या हमारी वेबसाइट के माध्यम से लिखित रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं। आप हमारे केयर मैनेजर की निरंतर सहायता के साथ इस सेवा का लाभ उठाने के लिए हमारी ऐप भी डाउनलोड कर सकते हैं। जो Onco Cancer Care के नाम से प्लेस्टोर पर मौजूद है।

आपको अपनी वर्तमान रिपोर्ट और अब तक किए गए टेस्ट और स्कैन के परिणामों को हमें भेजना होगा। रिपोर्ट हमें भेजने के चार दिनों के भीतर, आप हमारे ट्यूमर बोर्ड की रिपोर्ट प्राप्त करेंगे, जिसमें आपके लिए सर्वाेत्तम ट्रीटमेंट प्लान की जानकारी दी होगी।

आप अपने किसी भी सवाल को हमसे पूछ सकते हैं, इनका जवाब आपकी रिपोर्ट में दिया जाएगा। रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद भी, आप अगले 25 दिनों के लिए हमारे कैंसर विशेषज्ञों से कोई भी फॉलो-अप सवाल पूछ सकते हैं।

हमारे केयर मैनेजर आपके बाकी के कैंसर के सफर में आपकी सहायता करेंगे।

ट्यूमर बोर्ड के दिशानिर्देश क्या हैं?

Onco का ट्यूमर बोर्ड कैंसर के इलाज और सलाह के लिए यूएस और यूके के दिशानिर्देशों का पालन करता है। ट्यूमर बोर्ड द्वारा प्रदान की गई राय एनसीसीएन और एएससीओ के दिशानिर्देशों के अनुसार होती है।

इस ब्लॉग को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Related Posts

Leave a Comment

Here are frequently asked questions answered on coronavirus and its impact on cancer patients हिन्दी