कैंसर के बारे में ये तथ्य नहीं जानते होंगे आप

by Team Onco
282 views

कैंसर किसी को भी प्रभावित कर सकता है – इसमें युवा, बूढ़े, अमीर और गरीब, पुरुष, महिलाएं व बच्चे सभी शामिल हैं। कैंसर दुनिया में मौत के प्रमुख कारणों में से एक है। ऐसा माना जाता है कि 2030 तक कैंसर के मरीजों की संख्या एक करोड़ से भी अधिक हो सकती है। फिर भी, इनमें से कई मौतों को रोका जा सकता है। इसके लिए हमें जरूरत है तो कैंसर के प्रति और ज्यादा जागरूक रहने की और लोगों को इसके प्रति जागरूक करने की। इसके लिए हमें अपनी जीवनशैली में बदलाव करने के साथ कैंसर पैदा करने वाले संक्रमणों से बचने की जरूरत है। कैंसर के बारे में हम आए दिन खबरें सुनते रहते हैं, आज हम आपको इसके बारे में कुछ रोचक बातें बताएंगे, जिससे आप कैंसर के प्रति और जागरूक होंगे।

अपनी मां को कैंसर के सफर के दौरान प्यार करती हुई बेटी

 

1- कैंसर अनियंत्रित वृद्धि और असामान्य कोशिकाओं के प्रसार की विशेषता वाले रोगों का एक समूह है। कैंसर के 200 से अधिक प्रकार हैं, और इससे शरीर का कोई भी हिस्सा प्रभावित हो सकता है।

2- अमेरिकन कैंसर सोसायटी के अनुसार, दुनिया भर में 28 मिलियन लोग कैंसर को मात दे चुके हैं।

3- मुंह (oral cancer) का कैंसर और फेफड़े का कैंसर भारतीय पुरुषों में सबसे ज्यादा पाया जाता है। जबकि महिलाओं में वजायनल और ब्रेस्ट कैंसर सबसे ज्यादा पाया जाता है।

4- पश्चिमी देशों में ऑफिस या घर के अंदर ज्यादा रहने की वजह से स्किन कैंसर पीड़ितों की संख्या फेफड़ों के कैंसर के मरीजों की संख्या से कहीं ज्यादा है।

5- वैश्विक स्तर पर, कैंसर से होने वाली लगभग 70% मौतें निम्न और मध्यम आय वाले देशों में होती हैं।

6- व्यक्ति के जीवन में शरीर में कम से कम 6 बार कैंसर की कोशिकाओं का निर्माण होता है।

7- भारत में कैंसर के 30-50 प्रतिशत मामलों को रोका जा सकता है। इसके लिए हमें अपनी जीवन शैली में बदलाव करने की जरूरत है, जिसमें अधिक मात्रा में फल और सब्जियों का सेवन, नियमित रूप से व्यायाम, तंबाकू के सेवन से बचना और शराब के उपयोग को सीमित करना है।

8- एमिरेट्स कैंसर फाउंडेशन के अनुसार, मरीजों को कीमोथेरेपी के दौरान अपने पसंदीदा खाद्य पदार्थों को खाने से बचना चाहिए क्योंकि उपचार भोजन के स्वाद को अलग बना सकता है और आपको इससे घृणा हो सकती है।

9- एक सिगरेट में 4,800 से अधिक रसायन होते हैं, जिनमें से 69 से कैंसर का खतरा होता है।

10- फेफड़ों के कैंसर के 90 फीसदी से ज्यादा मामले धूम्रपान के कारण होते हैं।

11- कैंसर के कारण मरने वाले बच्चों की संख्या, प्रेग्नेंसी, टाइप 1 डायबिटीज और अस्थमा के कारण होने वाली कुल मौतों से अधिक है।

12- अधिकांश कैंसर वंशानुगत (हेरेडिटरी) और पर्यावरणीय कारकों के संयोजन से विकसित होते हैं, जिसमें धूम्रपान, शराब, मोटापा और आहार शामिल हैं।

13- बाएं स्तन का कैंसर, दाएं स्तन की तुलना में कैंसर 5 – 10 प्रतिशत अधिक विकसित होता है। शरीर के बाईं ओर मेलेनोमा (त्वचा का एक प्रकार का कैंसर) का 10 प्रतिशत अधिक खतरा होता है।

14- कैंसर संक्रामक नहीं है। हालांकि, कुछ कैंसर ऐसे होते हैं, जो वायरस और बैक्टीरिया के कारण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकते हैं। 

15- इस बात का कोई सबूत नहीं है, जिससे ये साबित होता हो कि शक्कर खाने से कैंसर बढ़ता है और अधिक तेजी से फैलता है। शरीर की सभी स्वस्थ और कैंसर ग्रस्त कोशिकाएं, बढ़ने और कार्य करने के लिए ग्लूकोज पर निर्भर करती हैं। हालांकि, इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि शक्कर खाने से कैंसर की वृद्धि होगी या शक्कर को पूरी तरह से काटने से इसका विकास धीमा हो जाएगा। हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि आपको उच्च शर्करा वाले आहार का सेवन करना चाहिए। 

16- बहुत गर्म पेय पीने से कैंसर के विकास का खतरा बढ़ जाता है।

17- मांसाहारी भोजन भी कैंसर सेल्स को तेजी से बढ़ने में मदद करता है क्योंकि इनमे एसिड्स होते हैं जो इन सेल्स को जल्दी ही कई गुना होने का माहौल बना कर देते हैं।

18- एक बार जब कोई कुत्ता 10 साल की उम्र का हो जाता है, तो उसकी कैंसर से मरने की संभावना 50% होती है।

19- इस बात में कोई दो राय नहीं है कि कैंसर का पारिवारिक इतिहास होने से बीमारी के विकास का खतरा बढ़ जाता है, लेकिन इसे ही आपनेे भविष्य के स्वास्थ्य की पूरी भविष्यवाणी न समझे। अनुमानित 10 में से 4 कैंसर को सरल जीवन शैली में बदलाव करके रोका जा सकता है, जैसे कि स्वस्थ खाने की आदतें, वजन स्वस्थ बनाए रखना, व्यायाम करना, मादक पेय पदार्थों को सीमित करना और तंबाकू उत्पादों से बचना।

20-दुनिया के कुल नए वार्षिक मामलों में 60% से अधिक अफ्रीका, एशिया और मध्य और दक्षिण अमेरिका में होते हैं। ये क्षेत्र दुनिया के कैंसर से होने वाली मौतों का 70% हिस्सा हैं।

Related Posts

Leave a Comment

Here are frequently asked questions answered on coronavirus and its impact on cancer patients हिन्दी
Bitnami