कैंसर उपचार: फूड ट्रैकर कैसे है मददगार 

by Team Onco
322 views

ये बात सभी जानते हैं कि कैंसर उपचार के बाद हामरा आहार ठीक होने में काफी अहम भूमिका निभाता है। आपके ऑन्कोलॉजिस्ट या कैंसर न्ट्रीशनिस्ट ने आपको पहले ही सलाह दी होगी कि आपको कैंसर के इलाज के दौरान क्या खाना चाहिए। यदि नहीं, तो आइए इस बारे में कुछ जरूरी जानकारी हासिल करते हैं।

यहां तक कि जब आप जानते हैं कि आपको क्या खाना चाहिए और ऐसा हो सकता है कि आपको अपनी डाइट के सही परिणाम न मिल रहे हों। चाहे वह आपका वजन बनाए रखना हो, आपकी ऊर्जा के स्तर में सुधार करना हो, उपचार के दुष्प्रभावों को कम करना हो या आपका आहार आपके पोषण लक्ष्यों की कुंजी हो सकता है। इससे यह ट्रैक करना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है कि आप क्या खा रहे हैं, और आप रोजाना कितना खा रहे हैं।

फूड ट्रैकर

अपनी डेली फूड लाइफ को आप ट्रैक करने के लिए आप फूड जर्नल लिखना शुरू कर सकते हैं। आपके लिए सबसे सुविधाजनक क्या है, इस पर निर्भर करते हुए, आप इस जर्नल को अपने फोन पर एक नोटबुक में रख सकते हैं, या अपनी प्रगति को ट्रैक करने के लिए अपने केयरगिवर की मदद ले सकते हैं।

क्या मुझे फूड जर्नल लिखने की ज़रूरत है?

यदि नीचे दी गई बातों में से एक या अधिक कथन सही हैं, तो आपके लिए फूड जर्नल द्य पत्रिका से लाभ होगा: 

  • आपको लगता है कि आप सही खा रहे हैं, लेकिन आप अभी भी अपने पोषण संबंधी टारगेट को पूरा नहीं कर रहे हैं।
  • आप कुछ खाद्य पदार्थ जैसे फल, नट्स या स्नैक्स खाना भूल जाते हैं।
  • आप प्रति दिन पर्याप्त कैलोरी नहीं खा रहे हैं।
  • आप प्रतिदिन बहुत अधिक कैलोरी खा रहे हैं और आपके डॉक्टर ने आपको कैलोरी की मात्रा कम करने के लिए कहा है।
  • आप अपने लिए सलाह के अनुसार पर्याप्त ताजे फल और सब्जियां नहीं खा रहे हैं।
  • आप पर्याप्त पानी नहीं पी रहे हैं।
  • आप लो एनर्जी का सामना कर रहे हैं।
  • आप मतली, उल्टी, कब्ज या दस्त जैसे गंभीर दुष्प्रभावों का सामना कर रहे हैं।
  • आपको भूख कम लगती है और खाने का मन नहीं करता है।

फूड ट्रैकर मेरे लिए कैसे मददगार है? 

फूड ट्रैकर मेरे लिए कैसे मददगार है? 

दुष्प्रभावों को कम करना

मतली, उल्टी, कब्ज और दस्त जैसे दुष्प्रभावों के साथ, ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो आपके लक्षणों की तीव्रता को कम करते हैं। ऐसे अन्य खाद्य पदार्थ भी हैं जो आपके लक्षणों को बदतर बनाते हैं।  

फ़ूड ट्रैकर का उपयोग करके, आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आप ऐसे खाद्य पदार्थ खा रहे हैं जो आपके दुष्प्रभावों को कम करेंगे। एक दिन में आपको कौन से खाद्य पदार्थों की आवश्यकता है, इसकी एक चेकलिस्ट बनाएं। जब आप इनका सेवन करें तो इन पर निशान लगा दें ताकि आपको पता चले कि आपने दिन भर के लिए अपनी आहार आवश्यकताओं को पूरा कर लिया है।

पर्याप्त कैलोरी सेवन सुनिश्चित करना

कैंसर के उपचार के दौरान, रोगियों के लिए या तो बहुत अधिक वजन कम होना या वजन बढ़ना आम बात है। आपके वजन में अत्यधिक परिवर्तन आपके उपचार के परिणामों को प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए, अपने दैनिक भोजन सेवन की निगरानी करना बहुत महत्वपूर्ण है।

एक फूड जर्नल का उपयोग करके आप रिकॉर्ड कर सकते हैं कि आप प्रति दिन कितनी कैलोरी का उपभोग कर सकते हैं। यह आपके डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ के लिए आपके डाइट प्लान में सुधार करने में मदद करने के लिए उपयोगी जानकारी है।

एनर्जी में गिरावट को जांचना 

आपका फूड जर्नल आपको यह पहचानने में मदद कर सकता है कि कौन से खाद्य पदार्थ आपके एनर्जी लेवल को बढ़ा रहे हैं, और कौन से खाद्य पदार्थ आपकी एनर्जी को गिरा रहे हैं। प्रत्येक भोजन के बाद आप कैसा महसूस करते हैं, इस पर नज़र रखने से आपको समस्या वाले खाद्य पदार्थों की पहचान करने में मदद मिलेगी।

इसका उपयोग यह जांचने के लिए भी किया जा सकता है कि कौन से खाद्य पदार्थ आरामदायक नींद सोने में मदद करते हैं, और कौन से अनिद्रा में योगदान दे रहे हैं।

एक हेल्दी मील प्लान 

फूड जर्नल से आपको यह पहचानने में भी मदद मिलती है कि उनके स्वाद या बनावट के कारण कौन से खाद्य पदार्थों का सेवन करना आसान है। फिर आप अपनी मील प्लान में बदलाव कर सकते हैं और अधिक खाद्य पदार्थों को शामिल कर सकते हैं जो आपको बेहतर खाने में मदद करने के लिए सुखद हैं।

उदाहरण के लिए, यदि आप देखते हैं कि आप कम फल खाते हैं लेकिन ताजे फलों के रस का अच्छी मात्रा में सेवन करने में सक्षम हैं, तो आपको पता चल जाएगा कि आपके भोजन योजना में कौन सा शामिल करना है।

फूड जर्नल का आसान तरीका

एक फूड जर्नल सीध और सरल होना चाहिए, इसे करने के कुछ आसान तरीके यहां दिए गए हैंः 

नोट करें कि आप क्या खाते हैं

जर्नल लिखने   का सबसे आसान तरीका यह है कि आप जो खाते हैं उसे नोट कर लें। आप यह निष्कर्ष निकालने के लिए साप्ताहिक आधार पर अपने नोट्स देख सकते हैं कि कौन से खाद्य पदार्थ आपकी मदद कर रहे हैं और किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए।

नोट करें कि आप क्या खाते हैं

जर्नल लिखने  का सबसे आसान तरीका है कि आप एक चेकलिस्ट बनाएं। 

उन खाद्य पदार्थों की सूची बनाएं जिन्हें आपको खाने की आवश्यकता है। यह इस तरह दिख सकता हैः 

  • नाश्ते में 1 अंडा
  • नाश्ते में 1 कटोरी ताजे फल
  • 1 छोटी कटोरी मिक्सड मेवे सुबह के नाश्ते के रूप में। 
  • हर दिन डन आइटम पर टिक करें कि आप उनमें से किसी को भी नहीं भूलेंगे। 

खाद्य पदार्थों को वर्गीकृत करें

आप यह जानने के लिए अपने भोजन के सेवन पर नज़र रखने के लिए एक लिस्ट का उपयोग कर सकते हैं कि कौन से खाद्य पदार्थ आपके लिए बेहतर हैं। आपने लिए कॉलम तैयार करें। जिनमें शामिल हैंः 

  1. इसे खाने के बाद मुझे फूला हुआ महसूस हुआ 
  2. इसे खाने के बाद मुझे मिचली आती है 
  3. इसे खाने के बाद मुझे नींद आती  
  4. इसे खाने के बाद मुझे ऊर्जावान महसूस होता है 

इससे आपको यह पहचानने में मदद मिलेगी कि कौन से खाद्य पदार्थ बार-बार आपको एक निश्चित तरीके से महसूस करा रहे हैं। बेशक, कुछ कैंसर दवाओं के भी ये प्रभाव हो सकते हैं। आप अपने डॉक्टर से इस बारे में बात कर सकते हैं कि आप इस तरह के दुष्प्रभावों का प्रबंधन कैसे कर सकते हैं।

आज से ही शुरू करें

ऐसा करने का कोई एक सही तरीका नहीं है। यह उस तरीके को खोजने के बारे में है जो आपके लिए सबसे अधिक फायदेमंद है। हो सकता है कि यह आपके लिए कुछ नया हो, तो आप पा सकते हैं कि आप अपनी फूड जर्नल को अपडेट करने में बहुत नियमित नहीं हैं। इसमें थोड़ा वक्त लगेगा। इसे जारी रखें, भले ही आप कुछ दिनों के लिए चूक गए हों। फिर से शुरू करें।

कृपया इसे भी पढ़ें: कैंसर फाइटर्स के ल‍िए इंडियन मील प्‍लान

                         कैंसर डाइट: डिहाइड्रेशन से आपको बचाएगी ये बेस्‍ट रेस‍िपी

Related Posts

Leave a Comment