Ovarian Cancer: लक्षण, प्रकार और इलाज

by Team Onco
90 views

ओवेरियन कैंसर हमारी ओवरी में होने वाली सेल्स की वृद्धि है। जहां सेल्स तेजी से विभाजित होते हैं और स्वस्थ शरीर के टिशू पर आक्रमण और नष्ट कर सकते हैं।

महिला के रिप्रोडक्टिव सिस्टम में दो ओवरी होती हैं, गर्भाशय के प्रत्येक तरफ एक। दोनों ओवरी का आकार बादाम के बराबर होते है-अंडे (ओवा) के साथ-साथ हार्मोन एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन का उत्पादन करते हैं।

ओवेरियन कैंसर

जब ओवेरियन कैंसर अपने शुरूआती स्टेज में पाया जाता है, तो उपचार सबसे अच्छा काम करता है। ओवेरियन कैंसर अक्सर संकेत और लक्षण पैदा नहीं करता है। इसलिए, आमतौर पर इसका पता एडवांस स्टेज (III/IV) पर चलता है। यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने शरीर पर ध्यान दें और जानें कि आपके लिए क्या सामान्य है। लक्षण कैंसर के अलावा किसी और चीज के कारण हो सकते हैं लेकिन, जानने का एकमात्र तरीका अपने डॉक्टर, नर्स को दिखाना है।

ओवेरियन कैंसर के लक्षण

  1. पेट में सूजन 
  2. भोजन पेट जल्दी भरा हुआ महसूस होना
  3. वजन का घटना
  4. पेल्विक एरिया में बेचैनी
  5. थकान
  6. पीठ दर्द
  7. कब्ज
  8. बार-बार पेशाब आना

ओवेरियन कैंसर के प्रकार

सेल का प्रकार जहां कैंसर शुरू होता है, यह निर्धारित करता है कि आपको किस प्रकार का ओवेरियन कैंसर है और आपके डॉक्टर को यह निर्धारित करने में मदद करता है कि कौन से उपचार आपके लिए बेहतर हैं। ओवेरियन कैंसर (Ovarian cancer) के प्रकारों में शामिल हैं:

ओवेरियन कैंसर के प्रकार

एपिथेलियल ओवेरियन कैंसर

यह प्रकार सबसे आम है। इसमें कई उपप्रकार शामिल हैं, जिनमें सीरस कार्सिनोमा और म्यूसिनस कार्सिनोमा शामिल हैं। 

स्ट्रोमल ट्यूमर

इन दुर्लभ ट्यूमर का आमतौर पर अन्य ओवेरियन कैंसर की तुलना में पहले चरण में निदान किया जाता है।

जर्म सेल ट्यूमर

ये दुर्लभ ओवेरियन कैंसर कम उम्र में होते हैं।

ओवेरियन कैंसर का इलाज

उपचार कई कारकों पर निर्भर करेगा, जिनमें शामिल हैं:
  • कैंसर का प्रकार, स्टेज और ग्रेड
  • व्यक्ति की आयु और समग्र स्वास्थ्य
  • उनकी व्यक्तिगत प्राथमिकताएं
  • इलाज की सुलभता और वहनीयता

सर्जरी

इलाज का चयन इस बात पर निर्भर करेगा कि कैंसर किस प्रकार का है और यह कितनी दूर तक फैला है। सर्जिकल विकल्पों में एक हिस्टेरेक्टॉमी, एक या दोनों ओवरी को निकालना और प्रभावित लिम्फ नोड्स को निकालना शामिल है। 

कीमोथेरेपी

इन दवाओं का उद्देश्य कैंसर सेल्स को मारना है। यदि कोई व्यक्ति कीमोथेरेपी की ओरल दवाएं या इंजेक्शन या जलसेक के रूप में लेता है, तो वे पूरे शरीर को प्रभावित करेंगे। एक अन्य विकल्प इंट्रापेरिटोनियल कीमोथेरेपी है। इस मामले मेंए एक ट्यूब सीधे कैंसर से प्रभावित शरीर के क्षेत्र में दवा पहुंचाती है। 

PARP इनहिबिटर

PARP इनहिबिटर के रूप में जानी जाने वाली दवाओं का उपयोग कुछ महिलाओं को एडवांस ओवेरियन कैंसर के इलाज के लिए किया जाता है जो, पहले के उपचार के बाद वापस आ गए हैं। अब, तीन नए क्लीनिकल ट्रायल्स के परिणाम बताते हैं कि दवाओं से उन महिलाओं को भी लाभ हो सकता है जिन्हें एडवांस ओवेरियन कैंसर है।

Related Posts

Leave a Comment