“अपने बच्चे की खुराक को कैसे बनाएं बेहतर”

by Team Onco
217 views

सभी बच्चों को बढ़ने के लिए बेहतर पोषण की आवश्यकता होती है। और जो बच्चे कैंसर जैसी बीमारी से जूझ रहे हों, उन्हें पोषण के तौर पर और ज्यादा चीजों की आवश्यकता होती है।  ऐसे वक्त में बच्चों को हाई प्रोटीन और हाई कैलोरी लेने की सलाह दी जाती है। 

बच्चों को बढ़ने के लिए बेहतर पोषण की आवश्यकता होती है।

बच्चों को रखें पोषण से भरपूर

ऐसे तीन तरह के फूड आइटम हैं, जिन्हें आप अपने खाने में शामिल कर सकते हैं, जिसका रोज सेवन करने से आपके बच्चे को भरपूर पोषण मिल सकता है: 

1- अंडे और मांसः चिकन, मछली, और अंडा 

2- दूध के उत्पाद: चीज, पनीर, अन्य तरह के चीज जैसे की क्रीम चीज और दही

3- पीनट बटर इसका सेवन आप रोटी, ब्रेड, बिस्किट, सेब और सलाद के साथ कर सकते हैं

प्रोटीन के अलावा, आपके बच्चे को भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, माइक्रो न्यूट्रेंट और फैट की आवश्यकता होती है।

आइए कैंसर से ग्रस्त बच्चों के माता-पिता की कुछ आम परेशानियों के बारे में जानते हैं। 

“मेरा बच्चे का वजन लगातार कम हो रहा है”

आइए आपके बच्चे के वजन को बढाने के लिए कुछ खास कैलोरी सेवन के तरीकों के बारे में जानें: 

खाने की सभी चीजों में घी की मात्रा को बढ़ाएं, चाहे वह रोटी हो, ब्रेड टोस्ट या सब्जी।

रोटी

1- खाने की सभी चीजों में घी की मात्रा को बढ़ाएं, चाहे वह रोटी हो, ब्रेड टोस्ट या सब्जी।

2- स्ट्रिंग चीज और क्यूब्स बच्चों को खेल के साथ खिलाने का एक बेहतर तरीका है।

3- किसी भी मीठे व्यंजन में मिल्क पाउडर को डालें।

4-  बच्चों को मीठा सीधे तौर पर नहीं बल्कि ब्रेड स्टिक, रोटी पर फेर कर या अन्य तरीकों से पसंद आता है, ऐसे में आप इन तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

आपका डॉक्टर इस समस्या को कम करने के लिए स्टोर किए जाने वाले उच्च कैलोरी पेय जैसे कुछ स्वादिष्ट पूरक (Supplements) का सुझाव दे सकता है।

“मेरा बच्चा खाने के मामले में थोड़ा नकचढ़ा है”

आमतौर पर यह सलाह दी जाती है कि आप अपने बच्चे के पसंदीदा खाद्य पदार्थों के बारे में जानें और उन्हें उपचार के चरण के दौरान इसका सेवन करने दें। इसका मतलब है कि वह समय-समय पर बिना रोक-टोक के जैम, कस्टर्ड आदि का सेवन कर सकते हैं। 

हालांकि, यह सुनिश्चित करना भी महत्वपूर्ण है कि उन्हें इसके साथ कुछ स्वस्थ पोषण मिल रहा हो। यहाँ कुछ टिप्स दिए गए हैंः

पेनकेक्स के ऊपर आप मेपल सिरप और क्रीम भी लगा सकती है, उसके स्वाद को और ज्यादा बेहतर बना देगा।

पेनकेक्स

1- कुकी कटर का उपयोग करके स्टार और हार्ट शेप का होल वीट पैनकेक बना सकती हैं। पेनकेक्स के ऊपर आप मेपल सिरप और क्रीम भी लगा सकती है, उसके स्वाद को और ज्यादा बेहतर बना देगा।

2- प्राकृतिक खाद्य रंगों जैसे चुकंदर या गाजर के रस को इडली और डोसा जैसे सादे खाद्य पदार्थों में डालें, ताकि वे नए और दिलचस्प दिख सके।

3- मिल्क शेक, दही और पुडिंग में खजूर का रस मिलाएं। 

4- आप जो सर्व करते हैं, उसके अलावा यह भोजन के समय भी होता है जिससे बेहतर भोजन का सेवन किया जा सकता है।

5- अच्छा खाना देने के अलावा, यह भी जरूरी है कि आप वह मील किस वक्त पर और कैसे दे रही हैं, जो एक पोषण की भूमिका निभाए।

जो भी आप अपने बच्चे को दे रही हैं उसके अलावा, आप इन चीजों को भी खाने मे बढा सकती हैं। यह आपके बच्चे की भूख को बेहतर करने में मदद करेगा।

बच्चे को मजेदार स्नैक्स बनाने का मौका दें जैसे कि पिज्जा, तिरंगा सैंडविच, फ्रूट चाट या कुकीज।

पिज्जा

1- बच्चे के साथ खाने के समय परिवार के अन्य सदस्य भी खाना खाएं। इससे उनके लिए खाने की चीजें अधिक मजेदार होंगी और वह मन से खाएंगे।

2- बच्चे को अधिक खाने के लिए दबाव न डालें और भोजन के वक्त उससे उसके दोस्तों या कहानियों जैसी खुशहाल चीजों को याद कराएं।

3- बच्चे को मजेदार स्नैक्स बनाने का मौका दें जैसे कि पिज्जा, तिरंगा सैंडविच, फ्रूट चाट या कुकीज। यह उन्हें और अधिक खाने के लिए प्रेरित कर सकता है।

4- समय-समय पर कुछ अलग करें। उदाहरण के लिए, घर पर छोटी-छोटी पिकनिक ऑर्गेनाइज करें। या फिर घर पर ही सप्ताह में एक बार रेस्तरां की तरह गेम खेलें और खुद वेटर बनकर बच्चे को खाना सर्व करें।

5- आप चाहें तो अपने बच्चे के दोस्त या पड़ोसियों को डिनर के लिए बुला सकते हैं। मेनू आप अपने बच्चे से पूछकर ही बनाएं।

“मेरा  बच्चा काफी कम मात्रा में खाना खाता है”

अगर आपका बच्चा एक बार में भरपेट भोजन नहीं करता है तो आप हर दो मील के बीच में उसे स्नैक्स दे सकती हैं। आइए ऐसे ही कुछ स्नैक्स के बारे में जानते हैं, जो आपके बच्चे के वजन को बरकरार रखने में मदद कर सकते हैं।

दही को स्वादिष्ट बनाने के लिए दही में फल, जैम, सिरप, शहद आदि के टुकड़े मिलाकर परोस सकती हैं।

दही में शहद

1- आलू: बच्चों को आलू काफी पसंद होते हैं। आप उन्हें चिप्स, वेजेज, मैश या समोसे और पफ में स्टफिंग करके बच्चे को दे सकती हैं। इसके स्वाद को बढाने के लिए आप इसमें केचप, मेयोनेज़ या चटनी का एक इस्तेमाल कर सकती हैं।

2- अंडेः ये एक आसान स्नैक्स ऑप्शन हैं जब आपके पास कम समय हो। आप उन्हें आमलेट, अंडा भुर्जी, फ्रेंच टोस्ट के रूप में या पराठे और सैंडविच के अंदर स्टफिंग करके परोस सकती हैं।

3- नूडल्स और पास्ताः यह झटपट बनने वाली आसान रेसिपी है, आप अपने बच्चे की पसंद के आधार पर इनमें आकर्षक स्वाद जोड़ सकती हैं।

4-  दहीः इसे स्वादिष्ट बनाने के लिए दही में फल, जैम, सिरप, शहद आदि के टुकड़े मिलाकर परोस सकती हैं।

 

 

“मेरे बच्चे को दस्त है”

डायरिया कैंसर के उपचार का एक सामान्य दुष्प्रभाव है लेकिन इसके लिए किसी अन्य कारण के होने पर अपने चिकित्सक से जांच कराना हमेशा अच्छा होता है।

ऐसी स्थिति में आपके बच्चे के तरल पदार्थों का सेवन बढ़ाना महत्वपूर्ण है क्योंकि दस्त से शरीर में पानी की कमी हो सकती है। पानी के अलावा, टेंडर नारियल पानी, स्मूदी, सूप और जूस भी मददगार रहेंगे। 

स्मूदी

  1. ऐसी स्थिति में आपके बच्चे के तरल पदार्थों का सेवन बढ़ाना महत्वपूर्ण है क्योंकि दस्त से शरीर में पानी की कमी हो सकती है। पानी के अलावा, टेंडर नारियल पानी, स्मूदी, सूप और जूस भी मददगार रहेंगे। 
  2. डिहाइड्रेशन के लक्षण जैसे कि मुंह में सूखापन, पेशाब की कम आवृत्ति या पेशाब के गहरे रंग का होना और चक्कर आना। डिहाइड्रेशन का मुकाबला करने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
  3. डायरिया कम होने तक सभी प्रकार की दाल (दाल और बीन्स), ड्राई फ्रूट्स जैसे फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों को खाने में शामिल न करें।
  4. कच्चे फल और सब्जियों के सेवन से बचें।

“मेरे बच्चे को कब्ज है”

आम तौर पर एक उच्च फाइबर आहार कब्ज से राहत देता है लेकिन जब कब्ज दवाओं का परिणाम होता है, तो बस आहार में बदलाव से मदद नहीं मिल सकती है। जुलाब के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

ऐसे में आप सुनिश्चित करें कि आपका बच्चा बहुत सारे तरल पदार्थों का सेवन करे और दिन भर थोड़ा एक्टिव रहे।

“मेरा बच्चा अक्सर मतली और उल्टी महसूस करता है”

  • उन खाद्य पदार्थों का सेवन करें, जो पचाने में आसान हो जैसे सूप, सॉफ्ट राइस, टोस्ट ब्रेड और क्रैकर्स।
  • भोजन का आकार कम करें और संख्या और आवृत्ति को बढ़ाएं।
  • पूरे दिन में बच्चे को फलों के रस, जीरा या पुदीने की पत्तियों का पानी पिलाएं।
  • खाना ज्यादा गरम खाना या बहुत ठंडा और स्वाद में मसालेदार व ज्यादा मीठा न हो।
  • मतली को कम करने के लिए अदरक की कैंडी, पेपरमिंट्स या अन्य प्रकार की हार्ड कैंडी का सेवन करें।
  • आहार में कोई भी कठोर परिवर्तन करने से पहले और नए खाद्य पदार्थों को शामिल करने से पहले अपने ऑन्कोलॉजिस्ट से परामर्श न भूलें।

इस ब्लॉग को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Related Posts

Leave a Comment

Here are frequently asked questions answered on coronavirus and its impact on cancer patients हिन्दी
Bitnami