कीमो के दुष्प्रभाव: ये डाइट करेगी मदद

by Team Onco
573 views

कीमोथेरेपी (Chemotherapy) एक मरीज़ की प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर कर देती है, क्या ऐसे कोई खाद्य पदार्थ हैं जिनका आपको कीमोथेरेपी के दौरान सेवन न करने की सलाह दी जाती हो? 

ऐसा हो सकता है कि आपको कीमोथेरेपी के दौरान भूख कम लगे, लेकिन इस वक्त में ये महत्वपूर्ण है कि आप हेल्दी खाएं। पौष्टिक भोजन आपकी ताकत बनाए रखता है, थकान से लड़ता है और आपके शरीर को ठीक करने में मदद करता है। ऐसे में ये सवाल आपके मन में ज़रूर आएगा कि आखिर क्या खाएं और क्या नहीं। 

कीमोथेरेपी का उपचार

यह प्रश्न दो बहुत महत्वपूर्ण मुद्दों को उठाता है कि कीमोथेरेपी के दौरान कौन से खाद्य पदार्थों का सेवन सुरक्षित हैं और किनसे बचना चाहिए। कीमोथेरेपी प्राप्त करने वाले लोगों को पहली परेशानी प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity system) के काम और खाद्य सुरक्षा पर विचार करना है। यह एक कमज़ोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों के लिए महत्वपूर्ण है। खाद्य जनित बीमारी के जोखिम को कम करने के लिए आपको कुछ खाद्य पदार्थों से बचने की आवश्यकता हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें: आपकी भूख को सुधारेंगे ये पौष्टिक सूप

                कैंसर रोगियों के लिए टाॅप 10 सुपरफूड

विषयसूची

  • मतली की समस्या (Nausea problem in Hindi)

  • अपनी पसंद का खाना खाएं (Eat your favourite food in Hindi)

  • छोटे मील लें (Have small meals in Hindi)

  • पूरे दिन तरल पदार्थ का सेवन करें (Drink fluids throughout the day in Hindi)

  • प्रोटीन की मात्रा पर ध्यान दें (Have good amount of protein in Hindi)

  • कब्ज की समस्या (Constipation problem in Hindi)

  • डिहाइड्रेशन की समस्या (Dehydration problem in Hindi)

यहां कुछ हेल्दी टिप्स के बारे में बताया गया है, आइए जानते हैं : 

मतली की समस्या (Nausea problem in Hindi)

मतली में करें अदरक को सेवन

अदरक मतली को कम करता है

बीमारी के दौरान खाने का विचार भी आपको और ज्यादा बीमार कर देता है। ऐसे में खाने की गंध से बचें – तेज गंध मतली को और भी खराब कर सकती है। पूरे दिन अदरक की चाय पिएं। अदरक, नींबू, लैवेंडर और पुदीना भी आपके पेट को शांत करने में मदद कर सकते हैं। ऐसे में आप इनका पानी बना कर पिएं। एक बार में कुछ भी बहुत ज्यादा न खाएं न पिएं। आपका पेट ज्यादा भरा महसूस होने से आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

अपनी पसंद का खाना खाएं (Eat your favourite food in Hindi)

खाद्य पदार्थ

सीमित मात्रा में पसंदीदा खाना

आपकी भूख, और जो खाद्य पदार्थ आपको आकर्षित करते हैं, वे दिन-प्रतिदिन बदल सकते हैं। हाई फैट वाले, हाई कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ खाने का सेवन आप सीमित मात्रा में कर सकते हैं।

छोटे मील लें (Have small meals in Hindi)

छोटे मील का सेवन करें

छोटे मील का सेवन करें

बहुत से लोग जो कीमोथेरेपी प्राप्त करते हैं, वे पाते हैं कि जब वे कुछ घंटों में खाते हैं तो उन्हें अधिक भूख लगती है। तीन बड़े मील के बजाय एक दिन में छह से आठ छोटे मील लेने का प्रयास करें।

पूरे दिन तरल पदार्थ का सेवन करें (Drink fluids throughout the day in Hindi)

तरल पदार्थ का सेवन करें

तरल पदार्थ का सेवन करें

हाइड्रेटेड रहने से आपके शरीर को विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद मिलती है, लेकिन एक बार में बहुत अधिक पीने से आपका पेट भर सकता है। अपने अधिकांश तरल पदार्थों को भोजन के दौरान पीने के बजाय खाने के बीच में पीने की कोशिश करें। यह सुनिश्चित करना सबसे अच्छा है कि आपको भरपूर पानी मिले। लेकिन अगर आप अपना वजन कम कर रहे हैं, तो आप फलों के रस, मिल्कशेक या क्रीम सूप जैसे हाई कैलोरी वाले तरल पदार्थ पी सकते हैं। 

प्रोटीन की मात्रा पर ध्यान दें (Have good amount of protein in Hindi)

प्रोटीन की मात्रा पर ध्यान दें

प्रोटीन की मात्रा पर ध्यान दें

यह शरीर के ऊतकों की मरम्मत में मदद करता है और आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ रखता है। फलों के साथ मूंगफली या बादाम नाश्ते में ज़रूर लें। बेक्ड सामग्री में, सलाद, या आइसक्रीम में कटे हुए या पिसे हुए ड्राई फ्रूट्स (Dry fruits) मिलाएं। अन्य आसान विकल्प आपके पास पनीर, अंडे का सलाद, या दूध के साथ एक कटोरी दाल है।

कब्ज की समस्या (Constipation problem in Hindi)

कब्ज की समस्या के लिए करें दलिये का सेवन

कब्ज की समस्या के लिए करें दलिये का सेवन

फाइबर कब्ज और दस्त दोनों के प्रबंधन की कुंजी है। फाइबर दो प्रकार के होते हैं: घुलनशील (soluble) और अघुलनशील (insoluble fiber)। घुलनशील फाइबर गीला होने पर चिपचिपा हो जाता है। घुलनशील फाइबर से भरपूर ओट्स इसका एक उदाहरण हैं। जब आप ओट्स में तरल मिलाते हैं, तो वे गाढ़े और चिपचिपे हो जाते हैं। अघुलनशील फाइबर ज्यादा पानी को अवशोषित नहीं करता है, इसलिए इसमें तरल डालने पर यह नहीं बदलता है। अजवाइन का एक टुकड़ा एक गिलास पानी में वैसा ही रहता है। यह तरल को अवशोषित नहीं करता है या बिल्कुल भी नहीं बदलता है। वह अघुलनशील फाइबर है। कब्ज के लिए अपने आहार में घुलनशील और अघुलनशील फाइबर का संयोजन शामिल करें। अपने पाचन तंत्र के माध्यम से चीजों को अधिक तेजी से और आसानी से स्थानांतरित करने में मदद करने के लिए बहुत सारे तरल पिएं। यह कब्ज को कम कर सकता है।

डिहाइड्रेशन की समस्या (Dehydration problem in Hindi)

तरल पदार्थ और फल

तरल पदार्थ और फल

अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रहना कीमोथेरेपी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। कीमोथेरेपी दवाओं को संसाधित करने और निकालने के लिए आपकी किडनी को बहुत सारे तरल पदार्थ की आवश्यकता होती है। यदि आप नियमित रूप से बाथरूम नहीं कर रहे हैं या आपके बाथरूम का रंग गहरा आ रहा है, तो तुरंत अपने डॉक्टर को बताएं। बहुत सारे तरल पदार्थ पीने के अलावा, पानी से भरपूर सब्जियां और फल खाएं, जैसे कि गाजर, खीरा, अजवाइन, जामुन, सेब, आलूबुखारा, नाशपाती, आड़ू, अमृत और संतरे।

Related Posts

Leave a Comment